Home » मुख्य अतिथि के लिए स्वागत भाषण | Welcome Speech in Hindi | Welcome Speech for Chief Guest

मुख्य अतिथि के लिए स्वागत भाषण | Welcome Speech in Hindi | Welcome Speech for Chief Guest

  • by
welcome speech for chief guest, swagat bhashan

खुशिया नग्मे बिखेर रही है
दबे दबे पावो से कुछ कह रही है
आज दिन कुछ खास है
पधारे आज प्रांगण में खास मेहमान है
तालियो के साथ स्वागत कर इनका
क्योंकि यह हमारी महफ़िल की जान है

माननीय प्रधानाचार्या जी, महोदया जी और पधारे गए अथितिगण का सादर अभिनन्दन

आज इस दिन की सबको हार्दिक शुभकामनाएं देती हूं और इस गौरवशाली दिन पे अपनी बात रखने के लिए और मुझे मंच प्रदान करने के लिए तहदिल से आपका शुक्रिया करती हूं।

जिस दिन से इस विद्यालय की नींव रखी गयी थी तब से ही शिक्षा का बेहतरीन संचार और व्यावाहारिक परीक्षण का सामंजस्य और अन्य कलाओं को ध्यान में रखा गया है और स्पोर्ट्स को तो विशेष महत्व दिया गया है। ताकि बच्चे जिस क्षेत्र में भी अपनी कला को निखारना चाहिए वो उसमे जा सकते है। इतना ही नही गुरु के सानिध्य में ज्ञान का निरंतर और सतत विकास भी करता रहा है ताकि यहाँ के विद्यार्थी सक्षम नागरिक बन के उभरे। इसलिए यह विद्यालय एक शिक्षित समाज की नींव रखने की पाठशाला है।

में तो इतना ही कहूँगी
हम तो कोरे कागज थे, किनारा आप ने दिखाया
हर एक फूल को पल्वित आपने बनाया
यह सिर्फ पाठशाला नही शिक्षा का मंदिर है
यहाँ हर एक फूल का अपना अलग ही अस्तित्व है

अब सरस्वती पूजन और दीप प्रज्वलन के लिए में आज के मुख्य अतिथि sir को मंच पे आमंत्रित करती हूं और सब विद्यार्थी से निवेदन करती है कि वो अपने स्थान पे खड़े होकर मुख्य अथिति का तालियों के साथ स्वागत करे।

मुख्य अथिति sir,

क्या तारीफ़ करू में sir आपकी, अल्फ़ाज़ भी कम पड़ जायेंगे
आपकी उपलब्धि को बताने लगी तो सुबह से शाम हो जायेंगी

बस इतना ही कहना चाहुगी-
न हर समुन्द्र में मोती सदा खिलते है
न हर मंज़र में दीप सदा जलते है
पर जिनके खिलने से समस्त उपवन खिल उठे
ऐसे पुष्प उपवन में सदियों बाद ही खिलते है

Read Also:-

Award Ceremony Speech in Hindi

Farewell Speech for Teachers

How to Write Poetry