Home » Anchoring Script for Skit Performance in Hindi | Skit Anchoring Script

Anchoring Script for Skit Performance in Hindi | Skit Anchoring Script

आकाश से सिमटकर, हवाओ से लिपटकर, खुशियों का कारवां लेकर इतने सारे सितारे एक साथ कहा जा रहे है, किस महफिल में अपनी रोशनी बिखेरने जा रहे है, अरे आपको नही पता आज जोधपुर के शांति भवन में रंगारंग कार्यक्रम है, जलवा बिखेरने आने वाले मंच पे नाटककार है, कोई बना राम है, तो किसी ने पहनी रावण की पोशाक है, कोई बना पहाड़ है,तो कोई बन बैठा टॉरनेडो है, भारत की संस्कृति की झलक दिखाने और अपनी कहानी के माध्यम से अपनी बात रखने ,रोचक तत्वों से अपना जलवा बिखेरने आने वालें जल्द ही मंच पे कलाकार है, एक बार जोरदार तालियों के साथ करते इनका स्वागत बारम्बार है।

सर्वप्रथम सरस्वती पूजन और दीप प्रज्वलन के लिए में संस्थान के अध्यक्ष….……..,मुख्य अथिति…….. और प्राचार्य को आमंत्रित करती हूं।


झिलमिल सितारे सारे करते आपको वंदन है
पधारे गये अथितियो को हमारा सत सत अभिन्नन्दन है।

अब पधारे गए मुख्य अथिति……… का परिचय देने के लिए में …….. को आमंत्रित करती हूं।
जैसा कि हमारे मारवाड़ की परंपरा रही है कि हम अपने अथिति का स्वागत करने में हमेशा तत्पर रहते है-

में……. sir स्व निवेदन करुँगी की वो ……..sir का माल्यापर्ण कर स्वागत कर।

स्वागत की इस कड़ी को आगे बढ़ाते हुए में ……. sir से निवेदन करुँगी की वो ……… को साफा पहनाकर उनका स्वागत कर।

अब में college की प्रिंसिपल……… से निवेदन करती हूं वो sir को स्मृति चिन्ह देकर उनका स्वागत कर।

अब में mam से request करती हूं वो निर्णायक के रूप में अपना स्थान ग्रहण करे।
और में…..mam से रिक्वेस्ट करती हूं वो नियम संबंधी जानकारी की फ़ाइल mam को दे।

जैसा कि हमारे हिंदुस्तान की परंपरा रही है कि हम किसी भी कार्यक्रम की शुरुआत गणेश वंदना से करते है। तो में गणेश वंदना के लिए …….. और …….. को आमंत्रित करती हूं।

जिसका सबको था बेसर्बी से इंतज़ार
Candidates भी जिसके लिए तैयार
मंच पे मचाने धमाल और
Judges भी नंबर देने के लिए है बेकरार
चलो शरू करे ड्रामा का प्रोग्राम

आसमान को बादलों का साथ चाहिए,
धरती को फूलो का हार चाहिए
और आने वाले कलाकारों को
आपकी तालिया का साथ चाहिए
तो तालियों की गड़गढ़ाहाट से इस महफ़िल में रंग जमाते है
और रमन हाउस को स्किट के लिए मंच पे आमंत्रित करते है।

Thanku Raman house for telling us the how plastic waste creating impact on human life

मस्तानी आज की शाम है,
बिखेर रहे अपनाअलग अलग अंदाज है
रंग जमाने आ रहे अब अशोका हाउस के कलाकार है
तालियों के साथ करे इनका स्वागत बारम्बार है।।।

Thanku Ashoka house

रंग बिखेरते, थिरकते हुए, करे कार्यक्रम का आगाज है
एक बार जोरदार तालियों के साथ करे इनका स्वागत बारम्बार है।

Thanku tagore hose

And the last performance
गूंजती रहे तालियों की आवाज है
मिलता रहे मंच को आप सब का प्यार है
शिवाजी हाउस भी बिखेरने मंच पे अपने रंग को तैयार है
एक बार जोरदार तालियों के साथ करे इनका स्वागत बारम्बार है।

एक दिन भी जी, मगर अटल विश्वास बनकर जी
तू कल नही जिंदगी का आज बनकर जी
मत बन पुजारी, तू स्वयं भगवान बनकर जी
एक दिन भी जी मगर इंसान बनकर जी।

Now it’s time to get the results, all the candidates are eagerly waiting for it, I will now request principal sir to come on stage and announce the results of today competition.

Principal Speech

Now, I like to call on stage our chief guest to give prizes to winning teams.

धन्यवाद ज्ञापन

अंत में चार पंक्तियां कहकर अपनी वाणी को विराम देती हु और जीतने वाली टीम को हार्दिक बधाईयां देती हु।

मेंहदी जब सहती है प्रहार,
तो बन जाती है ललनाओ का श्रृंगार
फूल पिरोए जाते है, हम उन्हे गले लगाते है
मानव जब जब जोर लगाता, पत्थर भी पानी बन जाता है।

Must Read:-

Graduation Day Script in Hindi

Anchoring Script for Annual Sports Day