Home » poem on Birds in Hindi | पंछी पर कविता

poem on Birds in Hindi | पंछी पर कविता

  • by
poem on birds in hindi,panchi pe kavita,hindi poem for kids, kids poem in hindi

कितना खूबसूरत लगता है
जब हम इन उड़ते हुए परिंदों को देखते है
ऐसे लगता है प्रकृति का समस्त सौंदर्य
इस आसमान में पंख फैलाये बैठा है।

एक छोर से दूसरे छोर पे जाते है
और पंख फैलाकर सन्देश क्या क्या दे जाते है
साथ साथ रहते है
और एक दूसरे से प्यार बहुत करते है।

आसमान में सौंदय बिखेरते है
एकता का बीज यही बोते है
पंछी हो के भी झुंड का महत्व समझते है
क्योंकि एक से सो भले होते है।

पूरा आसमान इनका होता है
हर एक डाल पे बसेरा इनका होता है
आसमान में छा जाती है रौनक
जब ये सैर पे ऐसे निकलते है।

Read:-

Agar me titli hoti:-https://nrinkle.com/2019/08/hindi-poem-on-titli/

poem on moon:-https://nrinkle.com/2020/05/poem-on-moon-in-hindi/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *