Home » women’s day anchoring script in Hindi | Poem on Women’s Day in Hindi | Quotes on Women’s Day

women’s day anchoring script in Hindi | Poem on Women’s Day in Hindi | Quotes on Women’s Day

  • by
womens day script in Hindi, poem on women's day in Hindi, quotes on women day

Hello everyone सादर नमस्कार

Hello Everyone, सादर नमस्कार,

A warm welcome to respected principal mam, all my teachers and my fellow friends

में जीनल कक्षा 11वी की छात्रा इस खूबसूरत सुबह को और खूबसूरत बनाने का प्रयास कर रही हु और नारी दिवस की सबको शुभकामनाएं देने और इस दिन को यादगार बनाने की पहल कर रही हु।

तो आइए इस कार्यक्रम का आगाज़ करते है और कुछ पंक्तिया नारी को समर्पित करते है।

अब स्टेज पे पहली प्रतिभागी को आमंत्रित करती हूं जो आज के नारी पे अपना विचार प्रस्तुत करने आ रही है।

थैंक्यू प्रतिभा

Now I invite second participant son stage who will reveal second phase of women, which is not changed, that the condition of womens in villages.

Thanku Swati

Now I invite minakshi and group on stage for the skit they performing on abortion,

Now I invite a group skit who will shows about today women how they are independent now which is need of an hour, so welcoming on stage alok and group

Now I will request director mam to come on stage and give your valuable speech and guide us how we fulfill our ambitions.

Thanku so much mam

Now I invite mehul and group for group dance performance

Thanku mehul and group

Now I invite ruchi for recitating a beautiful poem on women.

Thanks ruchi

कुछ पंक्तियो से अपनी वाणी को विराम देना चाहुगी

Sacrifice भी है, Compromise भी है
तहजीब भी है तो आदर भी है
सपने है तो पहले घर की सहलुहित है
अरमान है तो पहले पूरा करती घर का काम है
थकी हारी भी अपने सपनो को जीती है
कुछ वक्त ही सही पर उसी में वो पता नही क्या क्या बन लेती है
सबकी सुनती है, पर कुछ नही कहती है
तभी तो बात जब patience की आती है तो औरत को ही तवज़्ज़ा मिलती है।

SALUTE TO ALL WOMENS

Must Read

Morning School Assembly Script in Hindi

Foundation Day Script in Hindi