Home » Sunil and Suman Ki Love Story In Hindi | Heart Touching Love Story in Hindi | Love Story in Hindi

Sunil and Suman Ki Love Story In Hindi | Heart Touching Love Story in Hindi | Love Story in Hindi

  • by
love story in hindi, cute love story

सुनील और सुमन की छोटी सी लव स्टोरी  

मैं अपने दोस्त के इंतज़ार में पार्क पर बैठा था हमने एक साथ फिल्म देखने का प्लान बनाया था। शाम का वक़्त था वह बहुत ही सुखद और प्यारी ठंडी हवाएं चल रही थी जिसने मेरे दिल को और भी खुशी से भर दिया था। मैं पार्क पर घूमने लगा और अपने दोस्त के बारे में सोचने लगा कि वह आया है या नहीं। 

स्कूल स्टोरी पढ़ने के लिए यह आर्टिकल पढ़े 

👉

 School Love Story In Hindi 

अचानक मेरी नज़र पार्क पर बैठी एक लड़की पर पड़ा वह बहुत ही सुंदर, आकर्षक और प्यारी थी। वह मुझसे कुछ मीटर दूर बैठी थी खूबसूरत वातावरण ठंडी हवाएं ने अचानक से मेरे दिल में प्यार की उमंगे जागने लगा। वह फ़ोन पर किसी से बात कर रही थी, जब – जब मैं उसे देखता मेरे दिल में एक ऐसा प्यारा एहसास जागने लगता जो मुझे एक मीठी सी खुशी दे रहा था। कुछ पल के लिए लगा काश वह मेरी दोस्त होती और मुझसे बात करती। 

मैंने अपनी किस्मत आजमाने का फैसला किया, तुरंत मैंने अपना फोन निकाला और अपने दोस्त को कॉल किया और पूछा और कितना समय लगेगा आने में ? और मुझे जवाब मिला “लगभग आधे घंटे” भगवान का शुक्र है यह मेरे लिए बहुत अच्छा समय था। 

अब मुझे क्या करना चाहिए, मेरे दिल की धड़कन बढ़ गई मेरा दिल कहता है “जाओ और उससे बात करो” क्या मैं कर सकता हूं? मेरा दिल फिर से कहता है “उसके बारे में मत सोचो, कुछ भी नहीं होगा। फिर मैंने सोचा की आज नहीं बात किया तो पता नहीं दोबारा उससे मिल भी पाउँगा या नहीं।

क्योंकि ज़िन्दगी में कुछ ऐसे लोग भी मिल जाते हैं जिसे देख कर अपना सा लगता जिसे हम खोना नहीं चाहते। मैंने उसके साथ बात करने का फैसला किया और उससे बात करने चला गया।

मैं: हाय…

उसका कोई जवाब नहीं मैं:

हैलो….लड़की: हैलो…(भगवान का शुक्र है)

मैं: हाय मेरा नाम सुनील हैं 

लड़की : मेरा नाम सुमन हैं 

मैं: सुमन बहुत अच्छा नाम हैं

सुमन : धन्यवाद !

मैं : मैंने पूछा आप किसी का इंतजार कर रहे हो क्या?

सुमन :  मैं तो बस अपने छोटे भाई को पार्क घुमाने लायी हूँ वह देखो वह दूसरे बच्चो के साथ खेल रहा हैं।

मैं : क्या मैं आपसे कुछ पूछ सकता हूँ?

सुमन : क्या?

मैं: आपकी Voice आपके चेहरे पर बहुत ही प्यारी लगती है।

सुमन : तारीफ के लिए शुक्रिया कुछ देर बात करने के बाद

मैं: क्या हम एक कप कॉफी पीने चल सकते हैं? (पार्क के सामने एक कॉफी सेंटर था)

सुमन : नहीं

मैं : जूस

 सुमन : नहीं

 मैं: कम से कम पानीपुरी के लिए तो हा बोल दो वो तो लड़कियों का पसंदीदा हैं न। 

सुमन : तुम पुरे पागल हो नहीं मानोगे वह मुस्कुरायी ठीक हैं चली जाउंगी।

 मैं: अंदर ही अंदर मैं खुशी से नाचने लगा और भगवान का शुक्रिया करने लगा।

मैं: धन्यवाद बात मानने के लिए 

सुमन : ठीक हैं अब चलो जब मैं पहली बार उसके साथ – साथ चल रहा था तो मेरे दिल की धड़कन थोड़ी तेज़ था और यह कह रहा था कि क्या यह वही है जिसे मैंने देखा था। उसका खूबसूरत चेहरा, उसके गाल,और उसके लंबे सुनहरे सिल्की बाल थे और वह बहुत सुंदर लग रही थी। मानो की एक परी की तरह जो मुझे पहले कभी नहीं मिली थी मैं उस दिन खुशनशीब था। 

मैं: क्या मैं आपसे कुछ पूछ सकता हूँ ?

सुमन : क्या?

मैं: आपके पिताजी क्या करते हैं।

 सुमन : डॉक्टर हैं।

 मैं: भगवान का शुक्र है कि पुलिस नहीं हैं।

 इस तरह हम दोनों में काफी सारी बातें हुई और हम दोनों ने मिल कर पानीपुरी खाया। इतने में ही मेरा दोस्त भी आ गया अब मुझे भी जाना था और सुमन को भी, पर दिल कर रहा था उससे बात करता ही रहूं सुमन को देखता ही रहूँ। मैं सुमन का साथ नहीं छोड़ना चाहता था मैं चाहता था वह हमेशा मेरे साथ रहे। 

इसलिए मैं उसका फ़ोन नंबर लेना चाहता था पर पहली मुलाकात में नंबर लेना अच्छा नहीं होता। सुमन भी मुझे गलत समझती इसलिए  मैंने दूसरा तरीका अपनाया और पूछ लिया हम फिर कब मिल सकते हैं तो उसने कहा मैं हर संडे इसी पार्क में आती हूँ तब मुलाकात हो जाएगी। मैं भी खुश था इतना कहते ही सुमन ने मुझे कहा अब मुझे चलना होगा बाय फिर मिलेंगे।

उसके जाने के बाद मुझे विश्वास ही नहीं हो रहा था जिसे आधे घंटे पहले मैं बात करने के लिए लिए तरस रहा था।  उससे मैंने बात भी किया और फिर मिलने का वादा भी कर गई, इससे बड़ी खुशी की बात क्या होगी मैं उस दिन बहुत ही ज्यादा खुश था।

 इतने में मैं अपने दोस्त से मिला और दोनों फिल्म के बारे में बात करने लगे। पर मेरा पूरा ध्यान सिर्फ सुमन की तरफ था मैं बस अगले रविवार का इंतज़ार कर रहा था। इस तरह उस दिन मेरी (सुनील ) और सुमन की दोस्ती और लव स्टोरी की शुरुवात हुआ था।

इस कहानी से यह बात सीखने को मिलती हैं की अगर आपको कोई पसंद आता हैं तो आप उनसे जाकर बात करें। पहले दोस्ती का हाथ बढ़ाये बाकि अपने आप हो जाएगा अगर आप इंतज़ार करोगे तो इंतज़ार ही करते रह जाओगे और सही समय कभी नहीं आएगा। 

इसलिए जो भी हो जिसे चाहते हो उससे बात करो वह करेगी या नहीं करेगी यह यह मत सोचो, कम से कम पता तो चलेगा की जिसे आप चाहते हो उसके दिल में क्या हैं आपके लिए। 


तो यह था Sunil and Suman Ki Love Story In Hindi आशा करते हैं आपको यह पसंद आया होगा आपको यह कैसा लगा नीचे कमेंट में जरूर बताये।

साथ ही आप Sunil and Suman Ki Love Story In Hindi को अपने दोस्तों और सोशल मीडिया में भी शेयर जरूर करें। अगर आप हमसे जुड़ना चाहते हैं तो इसके लिए आप हमारे Social Media अकॉउंट Facebook या इंस्टाग्राम को लाइक या फॉलो भी कर सकते हैं।

 यह आर्टिकल सुनील कुमार द्वारा लिखा गया जो की www.heartbeatsk.com ब्लॉग के वरिष्ठ लेखक हैं। साथ ही सुनील कुमार जी एक प्रोफेशनल कंटेंट राइटर हैं जो विभिन्न विषयो पर लेख लिखते हैं जिन्होंने कई टॉप ब्लॉग वेबसाइट के लिए लेख लिखें हैं।

यह www.nrinkle.com पर लिखा गया हमारा पहला गेस्ट पोस्ट हैं। आशा करते हैं आप सभी को हमारा लेख पसंद आया होगा। अधिक जानकारी लिए हमारे ब्लॉग पर विजिट अवश्य करें धन्यवाद।  

For More Love Stories visit to:-

Heart touching love story of Husband and Wife