Home » How to start a speech । भाषण की स्टार्टिंग कैसे करे | How to deliver good speech in Hindi

How to start a speech । भाषण की स्टार्टिंग कैसे करे | How to deliver good speech in Hindi

  • by
How to start a speech,भाषण की स्टार्टिंग कैसे करे , How to deliver good speech in Hindi

(Starting ka time very useful)
कुछ शानदार और धमाकेदार होनी चाहिए
Isn’t it

So let’s learn today how to present yourself and how to build confidence and how to mark your presence your thought and your way of speaking in minds of audience and be a great …

स्टेज पे जाके बोलना और सबके सामने खुद को present करना और दिल की धड़कन को संभाल कर पूरे मंच को संभालना और उनकी attention पाना और अपनी बात को इस ढंग से रखना की audience आपकी दीवानी हो जाये, अपने आप मे एक बहुत बड़ा कार्य है। जिसके लिए हमे सिर्फ stage fear को नही भगाना है बल्कि खुद के अंदर एक positive energy और एक positive environment create करने की जरूरत है।

We hear from many peoples and we actually love to hear them, itz like that he aur she only speak and we endlessly listen them, why it happens? वो भी हमसे से एक है, फिर ऐसा क्या है कि हम उनकी तरफ खिंचे चले जाते है। r they doing something different, if yes, what’s that?

So आज की वीडियो में हम भाषण की शानदार शरुआत कैसे करे, या हम पहली बार भाषण दे रहे तो मंच पे खुद को कैसे present करे और किन चीज़ों का ध्यान रखे, आज की वीडियो में वो आपको सब बताने वाली हो जिससे आप एक शानदार अभियक्ति भी देंगे और लोगो की वाहवाही भी लूटेंगे।

सबसे पहले आपको जिस भी टॉपिक पे बोलना है उसे अच्छे से समझ ले, अगर वाद विवाद प्रतियोगिता है तो उसे अच्छे से याद कर ले

Secondly अब आपको जिस टॉपिक पे भी बोलना है, या जो भी बोलना है उसका प्रयास करे, अभ्यास करें, आयने के सामने खड़े होकर उसे बार बार repeat करे, इससे आपका self confidence भी build होगा और you will know all about your mistakes, where you have to improve and on which parameters are missing in your speech जैसे कि आपके हाव भाव, आपके बोलने का तरीका, आप कैसे present कर रहे है, कहा विराम देना है और कहा अपनी आवाज़ को बुलंद करना है।

Thirdly जो भी आप बोलने वाले हो उसकी रूपरेखा जरूर तैयार करे। कोनसे चीज़ कब और कैसे बोलनी है, यह आपको आनी चाहिए।

जैसे starting में आप ऐसे बोलते है
नमस्कार दोस्तो, सादर नमस्कार,
या
सादर नमस्कार और पधारे गए अथितियों को मेरा प्रणाम

उसके बाद आप बोलेंगे
माननीय प्रधानाचार्य जी, महोदया जी और उपस्थित सभी अथितिगन

में जीनल ….. इस विषय पे अपने विचार पे प्रस्तुत करने जा रही हु।

उसके बाद आप किसी मुक्तक या शायरी से अपनी बात start करे क्योंकि जब हम मुक्तक या शायरी से अपनी बात स्टार्ट करते है तो हमारा Impression अच्छा पड़ता है, कहा भी गया है first impression is last impression

मंज़िल तक पहुँचना हर किसी का ख्वाब होता है
पर अधूरे ख्वाबो का एक आसमान भी होता है
जहाँ हमारी मेहनत का कोई मोल नही होता है
क्योंकि बिना सफ़लता कोई चिट्टा आम नही होता है
कौन पूछता है फटे पुराने लिबासो को
यहां तो सिकंदर वोही होता है जो बाजी जीत जाता है।

उसके बाद आप अपनी स्पीच या अपनी बात लोगो के समक्ष रख सकते है।

अपनी बात रखते वक़्त आपको कुछ बातों का ध्यान रखना आवश्यक है जैसे कि

आपकी body language आपकी speech से मैल खानी चाहिए

आपका eye contact audience के साथ बना हुआ होना चाहिए ताकि आपको पता चल सके लोग आपकी स्पीच में कितना interested है और आपका self confidence बढ़ सके।

आपकी आवाज स्पष्ट और clear होनी चाहिए ताकि लोगो तक आपकी भावनाएं आसानी से पहुँच सके।

Emotions अगर speech में हो तो वो शब्दो के साथ बयां होने चाहिए, कहा धीरे बोलना है, कहा रुकना है और कहाँ आवाज़ को तेज करनी है, यह आपको पता होना चाहिए।

Like मुझे एक कविता बोलनी है
अगर में तितली होती
तो यह आसमान मेरा होता
रंग बिरेंगी परिधानो से
यह श्रृंगार मेरा होता।

अगर में तितली होती
खूबसूरती की मिसाल मेरी होती
रंगों से महक फैलाती
इंद्रधनुष के रंग मेरे होते।

इस कविता में कहाँ उतार है, कहा चढ़ाव है, कहा रुकना है, इन सब चीज़ों को ध्यान में रखकर अपनी बात रखी जाती है।

अब सबसे important बात आप कहाँ खड़े होकर बोल रहे है, वहां majority किसकी है, womens, childrens या बुजुर्ग, आपकी रूप रेखा उनके अनुरूप ही होनी चाहिए।

आपकी speech too the point होनी चाहिए, जिससे आप अपने audience का ध्यान ज्यादा आकर्षित कर पायेंगे और audience आपको सुनना भी पसंद करेंगे।

स्पीच के लास्ट में आप एक मुक्तक जरूर बोले ताकि last impression भी judges को छू सके।

जाने से पहले thanks धन्यवाद जरूर बोले।

बस आप confident होकर बिना हिचकिचाहट अपनी बात रखे बाकी आप judges और audience के लिए छोड़ दे।

Must Read

How to Write Hindi Poems

Apna Likha Kaha Publish Kare