Skip to content
Home » Christmas day script in Hindi | Christmas day speech in Hindi for school in Hindi | क्रिसमस पर भाषण

Christmas day script in Hindi | Christmas day speech in Hindi for school in Hindi | क्रिसमस पर भाषण

Christmas script, Christmas speech in Hindi, Christmas poem, Christmas Quote

Hello everyone, Sadar namaskaar, Jai Jinendra

A warm welcome to Principal mam, teachers and all my fellow friends

जैसा कि हम सब जानते है कि Christmas ईसाई धर्म के प्रमुख त्योहारों में से एक है और क्रिसमस विदेश में भी बड़ी धूमधाम से बनाया जाता है क्योंकि इसी दिन ईसामसीह का हुआ जन्म था। इन्हें प्रभु के पुत्र के नाम से जाना जाता है। कहा जाता है इसका जन्म merry नामक की कुँवारी कन्या के कोख से हुआ था । ईसामसीह शांति के दूत थे और इन्हें प्रेमश्वर के पुत्र के नाम से भी जाना जाता है।

पहला क्रिसमस रोम में 326 ई में बनाया गया था, तबसे से आज तक यह 25 दिसंबर को ही बनाया जाता है, नये वर्ष का भी इसी से होता आगाज़ है, इस दिन दिखता एक नया ही उल्लास है।

कहाँ जाता है इस दिन ईसामसीह सांता क्लाज़ के रूप में आते है और बच्चो की सारी मनोकामना पूरी करते है और इन्हें ढेर सारी तोहफ़े भी प्रदान करते है।

इस दिन लोग क्रिसमस ट्री बनाते है और इसे सजाते है और विद्यालय को भी सजाया जाता है और नाटक, गीत, कविता पाठ, नृत्य आदि प्रतियोगिता का आयोजन होता है। और पुरस्कार भी वितरित किये जाते है और शांति का संदेश पूरे विश्व को दिया जाता है।

इतना ही नही इसकी तैयारियो में लोग पूरे पहले ही लग जाते है, पूरे घर की सफ़ाई की जाती है और अलग अलग व्यंजन बनाये जाते है और पूरे घर को सजाया जाता है। आंगण में क्रिसमस ट्री लगाया जाता है और बच्चों को तोहफ़ी बांटी जाती है। इस दिन केक को भी काटा जाता है। और इस दिन चर्च की रोशनी देखने लायक होती है।

खुशिया नगमे सुनाने लगी है
Jingle bell की धुन कानो में गूंजने लगी है
लाल रंगों से सज गया सारा बाजार है
देखो आया Christmas का त्योहार है ।

बच्चों में दिखा आज एक नया उल्लास है
उपहारों की हो रही बरसात है
सांता क्लॉज़ का हो रहा इंतज़ार है
देखो आया Christmas का त्योहार है ।

ईसाई धर्म के प्रमुख त्योहारों में से एक है
इसी दिन हुआ ईसामसीह का जन्म है
Merry नाम की कुँवारी कन्या के कोख से जन्मे यह प्रभु के पुत्र थे
देखो आया Christmas का त्योहार है ।

पहला Christmas रोम में 326 ई में बनाया गया था
तब से आज तक यह 25 दिसंबर को बनाया जाता है
नया साल का इसी से होता आगाज़ है
देखो आया Christmas का त्योहार है ।

लाल रंग प्रतीक खुशियो का है
Jesus Christ देते संदेश शांति का है
तभी तो लाल रंगों से नहाया संसार है
देखो आया Christmas का त्योहार है ।

नये रंग घुलने लगे है
नया सा समा दिखने लगा है
उपहारों की बौछार और लाल रंगों की रौनक खिलने लगी है
Happy Christmas, Christmas मुबारक ऐसे message सबको पहुँचने लगे है
शांति का संदेश पूरे विश्व मे पहुँचने लगे है
हर चेहरे पे मुस्कान दिखने लगी है।

खुशिया नग्मे बिखेर रही है
दबे दबे पावो से कुछ कह रही है
आज दिन कुछ खास है
पधारे आज प्रांगण में सांता क्लाज़ है
उत्साह और उल्लास से खिल उठे बच्चे सारे है
क्योंकि तोहफ़े, उपहारों से सजी खुशिया सारी है।

आज तो वह दिन है, जिसका बच्चों को रहता इंतज़ार है
सितारे भी बजाते जिसके लिए गिटार है
नन्हे नन्हे कदमो से होता खुशियों का इकरार है
क्योंकि क्रिसमस बच्चो का पसंदीदा त्यौहार है।ए रंग है
क्योंकि आज ही 25 दिसंबर को हुआ प्रभु का जन्म है।

Must Read

Mother’s Day Script in Hindi

Grandparents Day Script in Hindi

error: Content is protected !!