Home » jain dharmkavita

jain dharmkavita

Chaturmas Pravesh Speech | चातुर्मास प्रवेश | चातुर्मास पे बोलने के लिए दो शब्द

  • by

शाशनपति श्रमण भगवान महावीर स्वामी को वंदन नमस्कार करने के पश्चात उन्ही की आज्ञा में विचरण करने वाले संत सतियो के चरणों मे कोटि कोटि… Read More »Chaturmas Pravesh Speech | चातुर्मास प्रवेश | चातुर्मास पे बोलने के लिए दो शब्द